देश

इस मंदिर में भगवान की तरह रोजाना होती है सरदार पटेल की पूजा, गांव वाले मानते हैं भगवान!

हिमांशु भट्ट/ नियति त्रिवेदी, मोरबी : पूरे भारत में सरदार पटेल का काफी मान सम्मान और आदर से देखा जाता है जिसमें कोई संदेह नहीं है. लेकिन गुजरात के एक शहर में सरदार पटेल को पूजा भी जाता है. जी हां सरदार पटेल की पूजा होती है गुजरात के एक गांव में. बात कर रहे है गुजरात के मोरबी जिले के टंकारा तहसील के लखधीरगढ गांव में स्थित रामजी मंदिर की दीवार पर सरदार वल्लभभाई पटेल और महात्मा गांधी की फोटो को लगभग 90 साल पहले बनवाया गया था.

भगवान के साथ होती है गांधी और पटेल की पूजा
मंदिर की दीवारों पर गांधी और पटेल की तस्वीरों की रोजाना भगवान की तरह ही पूजा-अर्चना की जाती है. खास बात ये है कि इस मंदिर की हर दीवार पर आजादी में एक राजनीतिक भूमिका निभाने वाले राजनेता की तस्वीर है. सरदार पटेल के अलावा इस मंदिर की दीवारों पर गांधी, नेहरू, शिवाजी, महाराणा प्रताप मोरबी के राजा लखधीर सिंह जाडेजा की फोटो भी है.

90 सालों से हो रही है पूजा
गुजरात के इस मंदिर में रहने वाले पुजारी रोजाना भगवान की तरह पूजा करते हैं. इस तस्वीरों पर न सिर्फ धूप और अगरबत्ती दिखाकर आरती की जाती है, बल्कि उन्हें प्रसाद भी चढ़ाया जाता है. खास बात ये है कि गांव के लोग राजनेताओं को भगवान नहीं मानते हैं, बल्कि सालों से यह परंपरा अपनी आने वाली पीढ़ी को आर्दशों को समझाने के लिए निभा रहे हैं.

इसका कारण है कि आनेवाली पीढी उनमें से प्रेरणा प्राप्त करे और उनके जैसा जीवन जीने का संकल्प करे. देश की आजादी में अपना योगदान देनेवालो महानुभावों को पूजा जाता है. जिस वजह से देश की आजादी में महत्व का योगदान देनेवाले महापुरुषो को आनेवाली पीढी कभी भूलेगी नहीं, इस गांव की दूसरी विशेषता ये भी है कि आज भी हरेक घर में गाय रखी जाती है , और गांव में कभी भी जाओगे आपको रास्ते पर घुमती गाय कभी नहीं दिखेगी.