देश

छत्तीसगढ़ः नक्सलियों ने लगाए चुनाव बहिष्कार के बैनर, लिखा ‘भाजपा फासीवाद’ का नारा

रायपुरः छत्तीसगढ़ के कोंडागांव में माओवादियों ने चुनाव बहिष्कार के बैनर लगाए हैं. बैनर के जरिए माओवादियों ने छत्तीसगढ़ के वर्तमान मुख्यमंत्री को रमन सिंह और भाजपा को फासीवाद सरकार बताया है. वहीं इन बैनर्स के जरिए नक्सलियों ने आगामी विधानसभा चुनावों को फर्जी बताते हुए ग्रामीणों को भी चुनाव बहिष्कार की बात कही है. नक्सलियों ने बैनर लिखा है ‘फर्जी छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों का बहिष्कार करो. वोट मांगने वाले नेताओं को कटघरे में करक जवाब मांगो. क्रांतिकारी जनता न तो सरकार का निर्माण करो और न ही उसे मजबूत करे. किसान विरोधी, कर्मचारी विरोधी भाजपा को मार भगाओ. गली-गली में शोर है रमन सिंह चोर है, नरेंद्र मोदी चोर है. पूर्व बस्तर डिविजन कमेटी भा.क.पा. (माओवादी).’

दंतेवाड़ाः नक्सली हमले में बाल-बाल बचे पत्रकार धीरज, बोले- यह मेरा दूसरा जन्म है

कोंडागांव के मटवाल की घटना
बता दें छत्तीसगढ़ के नक्सली इलाकों में आए दिन माओवादी ग्रामीणों पर चुनाव बहिष्कार का दबाव बनाते रहते हैं और कई बार बात ना मानने पर ग्रामीणों के साथ मारपीट और उनकी हत्याओं की वारदात भी सामना आ चुकी है. बता दें हालिया घटना कोंडागांव/मर्दापाल के मटवाल की है. जहां माओवादियों ने पंचायत भवन की दीवारों पर चुनाव बहिष्कार का नारा लिखा है. इसके साथ ही ग्रामीणों ने मर्दापाल में कई जगह चुनाव बहिष्कार के पर्चे भी फेके हैं.

VIDEO: नक्सली हमले के दौरान कैमरामैन ने मां के नाम जारी किया आखिरी संदेश, बताई आपबीती

बस्तर के ग्रामीण इलाकों में लगाए थे बैनर
बता दें यह पहली बार नहीं है जब नक्सलियों ने कहीं ऐसे बैनर लगाए हैं. कुछ माह पहल भी नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ के दक्षिणगढ़चिरौली में माओवादियों ने भीमा-कोरेगांव में फैली हिंसा के आरोप में गिरफ्तार हुए 10 एक्टिविस्ट्स के समर्थन में बैनर लगाए थे और बैनर के जरिए भाजपा सरकार का विरोध करते हुए अर्बन नक्सलियों की रिहाई की मांग की थी. यही नहीं बैनर में माओवादियों ने भीमा-कोरेगांव में फैली हिंसा के लिए भाजपा और आरएसएस को सूत्रधार बताया था. यही नहीं बस्तर में भी माओवादियों ने चुनाव बहिष्कार के बैनर लगाए थे.