दुनिया देश

जाको राखे साइयां मार सके ना कोई, एक्सीडेंट के 6 दिन बाद के रेस्क्यू टीम को जिंदा मिली महिला

पुलिस ने बताया कि इस दुर्घटना का कोई चश्मदीद नहीं था और महिला को खोजने में प्रशासन को छह दिन का समय लग गया . बयान में बताया गया है कि 18 अक्टूबर को एरिजोना राजमार्ग प्रबंधक दल ने राजमार्ग की रेलिंग टूटी हुई और गाड़ी को नीचे पेड़ पर अटकी देखा. इसके बाद प्रबंधक दल और पुलिस कार तक तो पहुंचे लेकिन कार में उन्हें कोई नहीं मिला. फिर उन्होंने वह रास्ता खोजा, जहां से महिला नीचे उतरी थी.

बयान में बताया गया है कि 457 मीटर लंबे रास्ते पर चलते हुए बचावकर्मियों को महिला मिली जिसे गंभीर चोटें आई थीं. महिला ने पुलिस को बताया कि वह कई दिनों तक अपनी गाड़ी में रही और उसके बाद किसी तरह बाहर आ कर इस उम्मीद में रेल रोड ट्रैक की ओर जाने लगी कि कोई न कोई उसे खोज निकालेगा. लेकिन वह इतनी कमजोर हो गई थी कि वह रेल ट्रैक तक नहीं पहुंच पाई. महिला को हेलीकॉप्टर की मदद से अस्पताल पहुंचाया गया.