चुनाव प्रदेश

मैं भाग्य हूं: छोटी सी बात से बदल गया जीवन

गौतम बुद्ध जिन्हें हम सिद्धार्थ के नाम से भी जानते हैं, उनका प्रवचन चल रहा था. एक व्यक्ति हर रोज प्रवचन सुनने आता था. बुद्ध अपने प्रवचन में लोभ, मोह, अहंकार, द्वेष आदि छोड़ने की बात किया करते थे. एक दिन वह व्यक्ति गौतम बुद्ध के पास आकर बोला, बुद्ध जी मैं एक महीने से आपका प्रवचन रोज सुन रहा हूं पर मुझे पर असर नहीं हो रहा है. आगे की कहानी जानने के लिए देखें यह कार्यक्रम.