दुनिया

डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन की हुई मुलाकात, पढ़ें इस ऐतिहासिक मीटिंग से जुड़ी 10 बातें

मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति और एक उत्तर कोरियाई नेता के बीच हो रही यह पहली शिखर वार्ता ट्रंप और किम के बीच कभी बेहद तल्ख रहे रिश्तों को भी बदलने वाली साबित होगी.

सिंगापुर: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन यहां ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिये मिले. इस बैठक का उद्देश्य द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाना और कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण है. ट्रंप और किम के बीच यह मुलाकात सिंगापुर के लोकप्रिय पर्यटन स्थल सेंटोसा के एक होटल में हुई. मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति और एक उत्तर कोरियाई नेता के बीच हो रही यह पहली शिखर वार्ता ट्रंप और किम के बीच कभी बेहद तल्ख रहे रिश्तों को भी बदलने वाली साबित होगी.

ट्रंप और किम जोंग की मुलाकात से जुड़ी 10 बातें
1. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह वास्तव में काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं, हमारी चर्चा और रिश्ते शानदार होने वाले हैं.

2. किम जोंग उन ने कहा कि यहां तक आना आसान नहीं था, कई बाधाएं थीं लेकिन यहां पहुंचने के लिये हमनें उन्हें पार किया.

3. किम जोंग ने डोनाल्ड ट्रंप को संबोधित करते हुए कहा, ‘आपसे मिलना इतना आसान नहीं था. मुझे खुशी है कि हम सारी बाधाओं को पार कर मिल रहे हैं.’

ANI @ANI

: US President Donald Trump and North Korean leader Kim Jong Un at at Sentosa Island.

4. बैठक के दौरान ट्रंप ने किम से कहा, ‘मुझे विश्वास है कि हम दोनों देशों के संबंध अच्छे होंगे.’

5. किम जोंग ने कहा कि तमाम बाधाओं को दूर कर हमारी मुलाकात हुई है, यहां तक पहुंचना आसान नहीं था.

kim jong un
6. ट्रंप और किम में हुई पहली मुलाकात. दोनों ने मिलकर हाथ मिलाया. औपचारिक मीटिंग के लिए मीटिंग स्थल पहुंचे दोनों नेता.

7. इस मुलाकात पर भारतीय रुपयों में करीब 100 करोड़ का खर्च किया गया.

8. व्हाइट हाउस ने इस बात की पुष्टि की है कि राष्ट्रपति ट्रंप और किम के बीच पहले अकेले बैठक हुई, जिसमें सिर्फ अनुवादक मौजूद रहे.

Donald Trump, Kim Jong Un

9. वार्ता की पूर्व संध्या पर अमेरिका ने ‘‘पूर्ण, सत्यापित और अपरिवर्तनीय’’ परमाणु निरस्त्रीकरण के बदले उत्तर कोरिया को ‘विशिष्ट’ सुरक्षा गारंटी की पेशकश की थी. अमेरिका ने इस बात पर जोर दिया है कि उसे कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण से कम कुछ भी मंजूर नहीं है.

10. उत्तर कोरिया की आधिकारिक संवाद समिति ने रविवार को कहा था कि किम वार्ता के दौरान ‘‘परमाणु निरस्त्रीकरण’’ और ‘‘स्थायी शांति’’ के लिये बातचीत को तैयार हैं. ट्रंप ने शनिवार को कहा था कि किम के पास इतिहास रचने का ‘‘एक मौका’’ है.