देश

नफरत फैलाने वाले मैसेज पर लगाम लगाने में नाकाम रहा ट्विटर, कार्रवाई की चेतावनी

नई दिल्लीः सरकार ने ट्विटर को ऐसी आपत्तिजनक और अवैध सामग्री हटाने की दिशा में बेहद धीमी गति से काम करने के लिए सोमवार को फटकार लगाई जिससे हिंसा भड़काने एवं महिलाओं के खिलाफ अपराधों को उकसाने वाले घृणा सन्देश और अफवाहें फैलाने में कथित तौर पर मदद मिलती है.

सरकार ने कहा कि यदि ट्विटर कानून लागू करने वाली एजेंसियों के दिशानिर्देशों का पालन नहीं करने पर उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की जाएगी.

केन्द्रीय गृह सचिव राजीव गौबा ने ट्विटर इंडिया के कानूनी,नीतिगत, विश्वास एवं सुरक्षा प्रमुख विजय गड़े और जन नीति की प्रमुख महिमा कौल को कानून लागू कराने वाली एजेंसियों के आदेशों के तत्वरित निस्तारण के लिए चौबीस घंटे काम करने वाला तंत्र सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि आपत्तिजनक सामग्री के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई के लिए आयोजित बैठक में माइक्रोब्लॉगिंग साइट के अधिकारियों को बताया गया कि कुछ मामलों में ट्विटर आपत्तिजनक विषयवस्तु को हटाने अथवा ब्लॉक करने में बेहद धीमा रहा है.