देश

हॉकी खिलाड़ियों के खाने में मिले कीड़े और बाल, कोच हरेन्द्र सिंह ने की शिकायत

कोच हरेंद्र सिंह का कहना है कि साई में मिलने वाला खाना बेहद खराब क्वॉलिटी का है और हाइजीन का भी कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है.

 

नई दिल्ली: एक तरफ खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ खेलों को बढ़ावा देने और उनकी दशा को सुधारने की बात कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ देश के राष्ट्रीय खेल हॉकी के खिलाड़ियों को अच्छा खाना भी नसीब नहीं हो पा रहा है. जी हां, भारत की हॉकी टीम के खिलाड़ियों को नेशनल कैंप में बेहद खराब क्वॉलिटी का खाना परोसा जा रहा है, जिससे नाराज होकर कोच हरेंद्र सिंह ने इसकी शिकायत की है. दरअसल, भारत की सीनियर पुरुष हॉकी टीम के प्रमुख कोच हरेन्द्र सिंह ने बेंगलुरू में भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) में चल रहे शिविर में परोसे जाने वाले घटिया खाने की शिकायत 9 जून को हॉकी इंडिया से की थी.

हरेंद्र सिंह ने साई में चल रहे शिविर के दौरान परोसे जाने वाले खाने की शिकायत की थी. कोच हरेंद्र सिंह का कहना है कि साई में मिलने वाला खाना बेहद खराब क्वॉलिटी का है और हाइजीन का भी कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है. उन्होंने कहा कि खाने में कीड़े और बाल भी पाए गए थे. उन्होंने कहा कि, हॉकी खिलाड़ियों के लिए नॉनवेज भी खाने में मौजूद नहीं है.

ANI @ANI

Coach of Indian men’s Hockey team Harendra Singh has complained to Hockey India about sub-standard quality of food & hygiene level at Sports Authority of India’s (SAI) centre in Bengaluru. He said, ‘The food quality has been below par. Insects & hair were also found in the food.’

हरेन्द्र सिंह ने जो पत्र लिखकर शिकायत की थी, उसमें लिखा था- ‘साई के बेंगलुरू स्थित केंद्र में खिलाडिय़ों को परोसे जाने वाला खाना बेहद घटिया है. खाने में ज्यादा तेल और वसा का इस्तेमाल किया जाता है. साफ-सफाई का भी कोई ध्यान नहीं दिया जाता है. खाना पौष्टिक हो इसका भी कोई ध्यान नहीं दिया जाता है.’

हरेंद्र सिंह ने यह भी लिखा था कि, ‘गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों से पहले खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने भी साई सेंटर का दौरा कर 48 घंटे में सब व्यवस्था दुरुस्त करने की बात कही थी, लेकिन इसका भी कोई असर हीं हुआ. हम चैंपियंस ट्रॉफी, एशियाई खेलों और पुरुष हॉकी विश्व कप की तैयारी में जुटे हैं. इनमें अच्छे प्रदर्शन के लिए खिलाडिय़ों के लिए बढ़िया और पौष्टिक खाना जरूरी है.’

अब कोच हरेंद्र सिंह की इस शिकायत को भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष डॉ. नरिंदर बत्रा ने गंभीरता से लिया है. उन्होंने साई की डीजी नीलम कपूर इस शिकायत के बारे में बताया है. साथ ही  उन्होंने इस पत्र की प्रति खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, खेल सचिव राजीव भटनागर को भी भेजी है. उन्होंने साई से कहा कि वह खिलाड़ियों के खाने की क्वॉलिटी और पौषकता का पूरा ध्यान रखें.

डॉ. नरिंदर बत्रा ने कहा, ‘खेल मंत्री राठौड़ भी कुछ महीने पहले साई सेटर का दौरा कर चुके हैं और इस मामले पर उनकी नजर भी है. मेरा साई से अनुरोध है कि खिलाड़ी देश के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें इसके लिए खाने की अच्छी व्यवस्था की जाए. यह दिक्कत साई के सभी केंद्रों में है. मैं इसलिए इस मसले पर आपसे चर्चा करना चाहता हूं.’

ANI @ANI

इस मामले में हॉकी इंडिया के अध्यक्ष राजिंद्र सिंह ने भी भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष डॉ. नरिंदर बत्रा को पत्र लिखा और हरेंद्र सिंह की शिकायत के बारे में बताया. उन्होंने लिखा कि- हम भारतीय ओलंपिक संघ से इस मामले में हस्तक्षेप करने की प्रार्थना करते हैं.

ANI @ANI

Rajinder Singh, President of Hockey India, has written a letter to the President of Indian Olympic Association Narinder Dhruv Batra on Harendra Singh’s complaint on the food quality at SAI centre in Bengaluru. He wrote, ‘We request indulgence of IOA in the matter’. (File Pic)

बता दें कि हरेंद्र सिंह को 1 मई 2018 को भारतीय पुरुष हॉकी टीम के मुख्य कोच के पद पर नियुक्त किया गया था. साल 2016 में भारत की जूनियर हॉकी टीम को लखनऊ में हुए उत्तर प्रदेश जूनियर हॉकी विश्व कप का खिताब दिलाने वाले हरेंद्र को पिछले साल सितम्बर में ही महिला हॉकी टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था. हरेंद्र के मार्गदर्शन में भारतीय महिला हॉकी टीम ने इस साल ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था. पिछले साल उन्हीं की कोचिंग में महिला टीम ने महिला एशिया कप का खिताब अपने नाम किया था.