देश

JEE Advanced Result LIVE: नतीजे घोषित, प्रणव गोयल ने किया टॉप

आईआईटी, एनआईटी में दाखिले लेने के इच्छुक उम्मीदवारों का इंतजार खत्म हो गया है. आईआईटी कानपुर ने जेईई एडवांस परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए गए हैं. इस परीक्षा में भाग लेने वाले उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट jeeadv.ac.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं. परीक्षा में 155158 उम्मीदवारों ने भाग लिया था, जिसमें 18138 उम्मीदवार पास हुए हैं.

– परीक्षा में पंचकुला रिजन के प्रणव गोयल ने पहला स्थान हासिल किया है. उन्हें  360 में से 337 अंक मिले हैं.

– वहीं मीनल परख फीमेल टॉपर है और उन्होंने देशभर 6ठी रैंक हासिल की है. उन्हें 360 में से 318 अंक मिले हैं.

– दूसरे स्थान पर कोटा के साहिल जैन और तीसरे स्थान पर दिल्ली के कलश गुप्ता रहे हैं.

– ओबीसीएनसीएल में विजयवाड़ा की मवूरी सिवा कृष्णा मनोहर, एससी में कोटा के आयुष कदम, एसटी में हैदराबाद के जटोथ शिव तरुण ने पहला स्थान हासिल किया है.

– दिव्यांग कैटेगरी में पटियाला के मनन गोयल ने पहले स्थान पर कब्जा किया है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार इस जेईई मेन में दिल्ली टॉप करने वाले सिमरप्रीत सिंह ने पूरे देश में 75वीं रैंक हासिल की है और उन्हें 279 अंक हासिल हुए हैं.

ऐसे देखें रिजल्ट

– अपने नतीजे देखने के लिए jeeadv.ac.in पर जाएं या आप results.jeeadv.ac.in वेबसाइट पर भी जा सकते हैं.

– jeeadv.ac.in वेबसाइट पर जाने के बाद आपको results.jeeadv.ac.in पर जाना होगा.

– वहां रजिस्ट्रेशन नंबर, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नंबर, इमेल एड्रेस आदि की जानकारी देकर आप रिजल्ट देख सकते हैं.

रिजल्ट जारी होने के बाद 15 जून से देश के सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों में सीट चुनने की प्रक्रिया शुरू होगी. जिन अभ्यर्थियों ने आर्किटेक्चर एप्टीट्यूट टेस्ट दिया है 18 जून के बाद अपना कॉलेज चुन सकेंगे. पूरे देश भर में छात्रों को सीट अलॉट करने वाली ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी पहले अलॉटमेंट की घोषणा 27 जून को करेगी.

JEE क्लियर नहीं हुआ तो ये हैं ऑप्शन, बना सकते हैं बेहतर करियर

बता दें परीक्षा का आयोजन 20 मई को किया गया था और परीक्षा की आंसर की मई के आखिरी में जारी कर दी गई थी. वहीं कैटेगरी के आधार पर रैंक परीक्षा के नतीजे घोषित करने के बाद जारी की जाएगी. साथ ही इस बार परीक्षार्थियों को नतीजे उनके फोन पर भेजे जाएंगे. इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिले के लिए उम्मीदवारों को पहले जेईई मेंस और उसके बाद जेईई एडवांस परीक्षा में भाग लेना होता है. मेंस परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवार ही एडवांस में भाग लेते हैं. उसके बाद रैंक के आधार पर उम्मीदवारों का एडमिशन किया जाएगा.