देश

उपराज्यपाल किरण बेदी ने पुडुचेरी के मुख्यमंत्री के पत्र को ‘बेहद अशिष्ट’ बताया

पुडुचेरी: पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने मुख्यमंत्री वी नारायणसामी द्वारा उन्हें लिखे गए पत्र को ‘बेहद अशिष्ट’ बताया. इस पत्र में मुख्यमंत्री ने उपराज्यपाल पर आरोप लगाया था कि वह आधिकारिक जानकारियों का ‘खुलासा’ सोशल मीडिया पर करती हैं. बेदी ने संवाददाताओं को भेजे गए अपने वाट्सएप संदेश में कहा, ‘नारायणसामी ने जो पत्र मीडिया में जारी किए हैं, अगर यह वही पत्र है जो उन्होंने उप राज्यपाल को लिखा था तो मैं यह सूचित करना चाहती हूं कि यह मूल पत्र मुख्यमंत्री को वापस भेज दिया गया है क्योंकि इसे किसी संवैधानिक पद पर बैठे शख्स को लिखा गया अशिष्ट पत्र माना गया है.’

बेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने इससे पहले भी कई ‘अशिष्ट’ पत्र लिखे हैं और अब तो इस तरह का पत्र लिखना एक अभ्यास ही बन गया है. उन्होंने कहा, ‘मैं आशा करती हूं कि मुख्यमंत्री यह महसूस करेंगे कि इस तरह का पत्र मुख्यमंत्री जैसे जिम्मेदार पद पर बैठे लोगों की शोभा नहीं बढ़ाता है.’ नारायणसामी द्वारा 10 अगस्त को बेदी को लिखे गए पत्र में कहा गया था, ‘ बेदी को बिना संबंधित मंत्री के अधिकारियों को आदेश जारी करने का कोई स्वतंत्र अधिकार नहीं है.’ गौरतलब है कि केंद्र में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मुंह की खाने के बाद कांग्रेस अब कुछ ऐसा ही दांव पुडुचेरी में खेलने जा रही है.

पुडुचेरी में सत्तारूढ़ कांग्रेस और उसकी सहयोगी डीएमके (द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम) ने उपराज्यपाल किरण बेदी पर सदन और उसके सदस्यों के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी करने के लिए विशेषाधिकार हनन कार्रवाई की मांग की है. विधायकों ने विधानसभाध्यक्ष वी वैथिलिंगम को एक संयुक्त ज्ञापन देकर बेदी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. बेदी का विभिन्न मुद्दों पर वी नारायणसामी सरकार से टकराव चल रहा है. हालांकि यहां कांग्रेस के केंद्र की तरह कम संख्याबल का डर नहीं है, क्योंकि यहां कांग्रेस सत्ता में है.