उत्तराखंड

जब कई किलोमीटर तक चलती कार की छत पर लटका रहा शख्‍स और फिर ऐसे बची जान

जानकारी के मुताबिक, पुलिस आरोपी का पीछा करती रही. पुलिस की गाड़ी को देख आरोपी ने गाड़ी की स्पीड को बढ़ा दिया. मेरठ रोड स्थित सिहानी चुंगी पर जाम में फंसने के बाद आरोपित को लोगों ने पकड़ लिया. लोगों ने उसे जमकर पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि राजनगर एक्सटेंशन निवासी आरोपित एलएलबी पास है और वो पटियाला कोर्ट में एक अधिवक्ता के यहां वकालत सीख रहा है. पुलिस ने उसे जेल भेज दिया है. घटना गुरुवार शाम की बताई जा रही है.

RoadRage case in ghaziabad accuse arrested

कार की छत पर पड़े राजेश कार रोकने के लिए शोर मचाते रहे, लेकिन आरोपित युवक ने उनकी नहीं सुनी. ये देख करहैड़ा पुल के पास तैनात पीसीआर ने भी कार का पीछा शुरू किया. राहगीर इस घटना का वीडियो बनाते रहे. आरोपित युवक ने तेज रफ्तार कार को रास्ते में कई बार दाएं-बाएं मोड़ा ताकि वो गिर जाएं. लेकिन, राजेश ने छत के किनारे से गेट को पकड़े रखा. आरोपित ने कार का शीशा भी बंद कर दिया, राजेश की उंगलियां दबी हुईं थी. लेकिन कार का गेट नहीं छोड़ा.

पुलिस ने बताया कि आरोपित युवक जीटी रोड, मेरठ तिराहा, एनएच-58 होते हुए करीब एक घंटे सिहानी चुंगी पहुंचा, जहां पर जाम में युवक को कार रोकनी पड़ी. इसके बाद आरोपित को लोगों ने दबोच लिया और उसकी जमकर पिटाई की. इसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया.

पुलिस ने बताया कि पीड़ित की शिकायत पर हत्या की कोशिश और अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपित की पहचान भुवनदेव शर्मा के रूप में हुई है, जो राजनगर एक्सटेंशन में रहता है. पुलिस ने बताया कि आरोपी एलएलबी पास है और वह पटियाला हाउस कोर्ट में एक वकील के यहां वकालत सीख रहा है. पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है.