क्रिकेट

एशिया कप: फाइनल में हारी महिला टीम, लगातार 7वीं बार चैंपियन बनने का सपना टूटा

भारतीय महिला महिला टीम का लगातार सातवीं बार एशिया कप जीतने का सपना अधूरा रह गया. हरमनप्रीत कौर के नेतृत्व में भारतीय टीम बांग्लादेश से पार नहीं पा सकी. रविवार को फाइनल में उसे 3 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. बांग्लादेश ने 113 रनों का लक्ष्य आखिरी गेंद पर हासिल (113/7)  कर लिया.

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Bangladesh Cricket @BCBtigers

The Celebration!
Photo : Asian Cricket Council

इसके साथ ही बांग्लादेश ने पहली बार टी-20 एशिया कप पर कब्जा जमाया. इस टूर्नामेंट में बांग्लादेश की टीम दूसरी बार भारत को हराने में कामयाब रही. इससे पहले उसने राउंड रॉबिन मुकाबले में 7 विकेट से मात दी थी. रुमाना अहमद प्लेयर ऑफ द मैच रहीं, जबकि हरमनप्रीत कौर को प्लेयर ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड मिला.

बांग्लादेश की ओर से निगार सुल्ताना ने सर्वाधिक 27 रन बनाए. पूनम यादव ने 7वें ओवर की आखिरी दो गेंदों पर बांग्लादेशी सलामी बल्लेबाजों को चलता कर भारत की उम्मीदें जगाई थीं. इसके बाद उन्होंने दो (4 ओवर 9 रन 4 विकेट) और झटके दिए. कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 19 रन देकर दो विकेट निकाले. लेकिन रुमाना अहमद (23) ने बांग्लादेश की जीत की राह आसान कर दी. आखिरी गेंद पर जीत के लिए 2 रनों की जरूरत थी, जहां आरा आलम ने ये रन पूरे कर लिये.

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने कप्तान हरमनप्रीत कौर (56 रन, 42 गेंदों में ) की अर्धशतकीय पारी की बदौलत निर्धारित 20 ओवरों में 9 विकेट पर 112 रन बनाए थे.

भारत की शुरुआत बेहद खराब रही. सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना (7) एवं मिताली राज (11) पहले विकेट के लिए केवल 12 रन ही जोड़ सकीं. मंधाना को कप्तान सलमा खातून ने रन आउट कर भारत को पहला झटका दिया.

भारत ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और टीम को स्कोर 4 विकेट पर 32 रन हो गया. हरमनप्रीत एवं वेदा कृष्णमूर्ति (11) के बीच पांचवें विकेट के लिए 30 रनों की साझेदारी हुई. कृष्णमूर्ति को आउट करके इस साझेदारी को सलमा खातून ने तोड़ा.

अंतिम ओवरों में तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी (10) एवं हरमनप्रीत के बीच में 33 रनों की साझेदारी हुई और भारत का कुल स्कोर 112 तक पहुंच पाया. बांग्लादेश की ओर से खादिजा तुल कुबरा और रुमाना अहमद ने दो-दो विकेट झटके, जबकि सलमा खातून एवं जहांआरा आलम को एक-एक विकेट मिला.